Monday , October 26 2020
Diploma courses After 12th
Diploma courses After 12th

Best diploma courses after 12th

 Diploma courses After 12th

सही प्रोफेशनल कोर्स का चुनाव जिंदगी का एक अत्यंत महत्वपूर्ण कार्य होता है. क्योंकि, Diploma courses After 12th  कोर्स आपके के करियर की प्रगति तय कर सकता है।

 डिप्लोमा कोर्सेस जॉब ओरिएंटेड होतेहैं अगरआपको किसी विषय में रुचि है,  तो डिप्लोमा कोर्सेज बहुत मदद कर सकते हैं. इन कोर्सेस को पूरा होने में कम समय लगता है, 

और इन डिप्लोमा कोर्सेस की मदद से एक अच्छी नौकरी भी प्राप्त हो जाती है. इस लेख में, ऐसे डिप्लोमा कोर्सेस को सूचीबद्ध किया है। 

जो इन दिनों बहोत ज्यादा डिमांड में है और आगेआनेवाले समयमें भी इनकी बहुत अच्छी मांग होने की आशंका हैं।

इंजीनियरिंग  Diploma courses After 12th पाठ्यक्रम

डिप्लोमा इंजीनियर्स की इन दिनों बहुत ज्यादा मांग हैं. कई स्टार्ट अप कम्पनियों मे, मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स में,

 सरकारी कॉन्ट्रैक्ट्स में आसानी से कोर उद्योगों या अन्य संबंधित उद्योगों में नौकरी मिल जाती है।

 इतना ही नहीं दुबई और सिंगापुर जैसे देशों में भी भारतीय डिप्लोमा इंजीनियर्स को मौका दिया गया हैं।

डिप्लोमा इंजीनियरिंग में कोर कोर्स हैं- इलेक्ट्रिकल, सिविल और मैकेनिकल इंजीनियरिंग आप अन्य शाखाओं जैसे- कंप्यूटर, वैमानिकी, टेक्सटाइल आदि के लिए भी जा सकते हैं।

लेकिन इलेक्ट्रिकल, सिविल और मैकेनिकल इंजीनियरिंग के कोर्सेस के लिए नौकरी की संभावनाएं अधिक हैं।

 

पात्रता मानदंड 

डिप्लोमा कोर्स जॉइन करने के लिए 10 वी या 12 वी की परीक्षा पास करना ज़रूरी हैं

कई कॉलेजेस में अंको को ले कर कट ऑफ भी होता हैं।

यह ध्यान रखे की कम से कम 50 % मार्क्स हो तो ही अच्छे कॉलेजेस में एडमिशन मिल सकता हैं।

कोर्स की अवधि: 3 वर्ष

परीक्षा प्रकार: सेमेस्टर

प्रवेश प्रक्रिया: प्रवेश परीक्षा आधारित / मेरिट आधारित

पाठ्यक्रम शुल्क: INR 1 से 5 लाख के बीच 

वेतन: INR 15,000 से 3 लाख से शुरू

 

समुद्री क्षेत्र से संबंधित Diploma courses After 12th (मरीन फिल्ड रिलेटेड डिप्लोमा कोर्सेस )

समुद्री संबंधित क्षेत्र याने मरीन इंडस्ट्री बहुत बड़ी है. इस क्षेत्र से जुड़े विभिन्न प्रकार के डिप्लोमा कोर्सेस उपलब्ध हैं।

 इसमेसे कुछ ऐसे हैं- मरीन टेक्नोलॉजी डिप्लोमा, मरीन इंजीनियरिंग डिप्लोमा, सेलर डिप्लोमा कोर्स आदि।

नौकरी में समुद्री यात्रा की दौरान व्यापारी नौसेना के जहाज पर रहना भी शामिल है. जहाज पर 6-8 महीने और पर बाकी समय जमीन पर।

मरीन इंजीनियरिंग में डिप्लोमा इस तरह से डिज़ाइन किया गया है जिससे यह डिग्री धारक अपनी कुशलतासे समुद्री इंजीनियरों की मदद कर सकता है, 

जहाज के प्रोपल्शन भाग को बनाए रखना, बंदरगाह पर और जहाज पर सभी इंजीनियरिंग उपकरणों को बनाए रखता है.

कोर्स में शिप कंस्ट्रक्शन और शिप स्टेबिलिटी, मरीन पावर प्लांट आदि जैसे शिक्षा शामिल हैं।

 

पात्रता मानदंड 

मरीन डिप्लोमा करने के लिए 12 वी की परीक्षा पूरी करना जरुरी हैं।

 कई कॉलेजेस में 12 वी के अंकोंके लिए 55 % का कटऑफ होता है।

इसके साथ 12वी कक्षा में छात्र ने फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स जैसे विषयों का अभ्यास किया हुआ चाहिए।

कोर्स की अवधि: 1-3 वर्ष

परीक्षा प्रकार: वार्षिक (कुछ कॉलेजों में सेमेस्टर)

प्रवेश प्रक्रिया: मेरिट आधारित (कुछ कॉलेजों में प्रवेश परीक्षा आधारित)

पाठ्यक्रम शुल्क: INR 2,50,000 – INR 3,00,000 सालाना 

वेतन: INR 4,50,000- INR 7,00,000

 

फायर एंड सेफ्टी टेक्नोलॉजी में Diploma courses After 12th

जिन उम्मीदवारों के पास  फायरिंग या सुरक्षा उपायों में असफलता जैसी परिस्थितियों से निपटने का जज्बा है।

डिप्लोमा इन फायर एंड सेफ्टी मैनेजमेंट कोर्स करने उनके लिए एक उपयुक्त विकल्प है. जो लोग अच्छी नेतृत्व क्षमता, प्रभावी कम्युनिकेशन कौशल रखते हैं।

और दूसरे के जीवन की रक्षा करने का जज्बा रखते हैं और जो आपदा आने पर किए जाने वाले उपायों में विस्तृत अध्ययन प्रदान करता है,

 वे इस कार्यक्रम से लाभ प्राप्त कर सकते हैं.यहपदवीधारक उद्योगों, रिफाइनरियों में समृद्ध पदों पर काम कर सकते हैं, 

अग्नि सुरक्षा प्रशिक्षण संस्थानों में व्याख्याताओं और प्रशिक्षकों का चयन कर सकते हैं, सरकारी अग्निशमन विभागों में शामिल हो सकते हैं।

इस कोर्स का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इस कोर्स से जुड़े विदेश में नौकरी के अवसर बहुत अधिक हैं।

इस कोर्स को पूरा करने के बाद बहुत से छात्र खाड़ी देशों में अच्छी नौकरी पाने में सफल रहे हैं।

इन दिनों, दुनिया भर की सरकारों ने अपनी सुरक्षा नीतियों को सख्त बना दिया है. उन्होंने कारखानों के लिए सुरक्षा कार्यालय का होना अनिवार्य कर दिया है।

पात्रता मानदंड 

इस कोर्स के लिए किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कला / वाणिज्य / विज्ञान के किसी भी स्ट्रीम में 12 वीं कक्षा पास होना जरुरी हैं।

कोर्स की अवधि: 1 -2  वर्ष

परीक्षा प्रकार: सेमेस्टर

प्रवेश प्रक्रिया: मेरिट आधारित

पाठ्यक्रम शुल्क: INR 50,000 – INR 19 ,00,000 सालाना 

वेतन: INR 6,00,000- INR 7,00,000

एनीमेशन और मल्टीमीडिया में Diploma courses After 12th

डिप्लोमा इन एनिमेशन और मल्टीमीडिया कोर्स डिजाइन, चित्रण, फोटो एडिटिंग, ग्राफिक्स डिजाइनिंग, सिनेमैटोग्राफी, फोटोग्राफी, कार्टून, 2 डी और 3 डी एनिमेशन, वीडियो एडिटिंग, विजुअल इफेक्ट्स

और गेम डिजाइनिंग में कौशल और रचनात्मकता कार्य करने के लिए फायदेमंद है।

यह उन लोगों के लिए है जो मल्टीमीडिया और एनीमेशन में एक अंतरराष्ट्रीय कैरियर बनाना चाहते हैं।

और ब्लू-चिप एनीमेशन स्टूडियो और मनोरंजन कंपनियों के साथ काम करना चाहते हैं।

एनिमेशन और मल्टीमीडिया छात्रों में डिप्लोमा को एनिमेटर, आर्ट डायरेक्टर, मल्टीमीडिया प्रोग्रामर, फ्लैश एनिमेटर, 3 डी मॉडलर, 3 डी एनिमेटर, फिल्म, और वीडियो एडिटर, विजुअलाइज़र, वेब डिज़ाइनर, एवी एडिटर, कंटेंट डेवलपर, वीडियो एडिटर, कंपोज़िटर जैसी क्षमताओं में रखा जाता है।

पात्रता मानदंड 

इस कोर्स के लिए किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कला / वाणिज्य / विज्ञान के किसी भी स्ट्रीम में 12 वीं कक्षा पास होना जरुरी हैं.

  • कोर्स की अवधि:            1  वर्ष
  • परीक्षा प्रकार:                सेमेस्टर और वार्षिक 
  • प्रवेश प्रक्रिया:                मेरिट आधारित
  • पाठ्यक्रम शुल्क:           INR 10,000 – INR 10 ,00,000 सालाना 
  • वेतन:                             INR 2,00,000- INR 10,00,000

 

विदेशी भाषा में Diploma courses After 12th

बहुत सारे ऐसे बिस्वविद्यालय और संसथान हैं जो विदेशी भाषाओं में Diploma After 12th करतें हैं।

  यह ज्यादा लम्बी अवधि के नहीं होते।  जिससे आप कम खर्च में कर के टूरिस्ट कंपनियों, विदेशी भाषा के टीचर की स्कूलों और प्राइवेट कंपनियों आदि में जॉब कर सकतें हैं। 

इस फील्ड में अच्छा स्कोप आप को मिल सकता है।  इसमें सैलरी पैकेज भी अच्छा मिल जाता है।  

 

टीचिंग में Diploma courses After 12th

बाहरवीं के बाद टीचिंग में  बाहरवीं के बाद कई डिप्लोमा कोर्स  हैं, जैसे, एलीमेंट्री टीचर इन एजुकेशन, डिप्लोमा इन एजुकेशन, नर्सरी टीचर ट्रेनिंग। 

इन कोर्स को करने के बाद स्कूल में टीचर की जॉब मिल सकती है। लड़किंयो के लये यह एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

 वे आसानी से इसे कर के जॉब कर सकतीं हैं। टीचिंग जॉब को बहुत अच्छे नौकरियों में मन जाता है।  

 

नर्सिंग में Diploma courses After 12th

आप 12th के बाद नर्सिंग का कोर्स करके आप जॉब पा सकतें हैं। 

 इसमें आप को इंट्रेंस टेस्ट कई संस्थानों में देना पद सकता है।

 और कई जगह आपको मेरिट के आधार भी एडमिशन मिल सकता है।

 इस कोर्स को करके आप सरकारी हॉस्पिटल, प्राइवेट हॉस्पिटल में जॉब प्ऱप्त कर सकते हैं। और महीने कि अच्छी खासी इनकम कर सकतें हैं।  

और अंत में 

 Diploma After 12th के लिए भारत में काफी सारे कोर्स उपलब्ध हैं।  मैंने यंहा पे कुछ कोर्स के बारे बताया है जिन्हे आप कर के आप जॉब प्राप्त कर सकतें हैं।

हमारी अन्य पोस्टों को पड़ने नीचे क्लिक करें।

Fire & Safety Courses In India

Spread the love

Check Also

Fire & Safety

Safety officer Course In India

How to become a safety officer in Hindi  Safety officer Course In India हमारे देश …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *